jo kartey hai mehnat

पसीने की स्हायी से लिखे पन्ने कभी कोरे नहीं होते
जो करते है मेहनत दर मेहनत उनके सपने कभी अधूरे नहीं होते..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *